Do you want to remove all your recent searches?

All recent searches will be deleted

Watch fullscreen

top ten news of 6 PM bulletin with national and international stories on 23th august

Hindustan Live
Hindustan Live
last year|0 view
उच्चतम न्यायालय ने आज बहुमत के फैसले में तलाक-ए-बिदअत (लगातार तीन बार तलाक कहने की प्रथा) को असंवैधानिक करार दिया। पांच सदस्यीय संविधान पीठ के तीन सदस्यों (न्यायमूर्ति रोहिंगटन एफ नरीमन, न्यायमूर्ति उदय उमेश ललित और न्यायमूर्ति कुरियन जोसेफ) ने तलाक-ए-बिदअत को असंवैधानिक करार देते हुए कहा कि यह प्रथा गैर-इस्लामिक है।

Browse more videos